30 वर्षों बाद हिंदू नववर्ष 2024 की शुरुआत राजयोग में, 4 राशियों के लिए नया वर्ष शुभ

चैत्र शुक्ल पक्ष प्रतिपदा तिथि से हिंदू नववर्ष प्रारंभ होता है। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार यह 09 अप्रैल 2024 मंगलवार से प्रारंभ होगा। हिंदू नववर्ष को नव संवत्सर, गुड़ी पड़वा, उगादि, विक्रम संवत आदि नामों से इंगित करते हैं।
इसे युगादि, वरेह, चेटीचंड, विशु, वैशाखी, चित्रैय तिरुविजा, सजिबु नोंगमा पानबा या मेइतेई चेइराओबा आदि के नाम से जाना जाता है। आओ जानते हैं इस नववर्ष की खास बातें।
प्रथम माह : चैत्र
पक्ष : शुक्ल पक्ष
तिथि : प्रतिपदा
विक्रम संवत : 2081
नव संवत्सर का नाम : पिंगला
राजा : मंगल
मंत्री : शनि
ग्रहों के दशाधिकार :7 विभाग क्रूर ग्रहों को और 3 विभाग शुभ ग्रहों को मिले हैं।
प्रभाव : मंगल के राजा और शनि के मंत्री होने से यह वर्ष बहुत ही उथल पुथल वाला रहेगा। शासन में कड़ा अनुशासन देखने को मिलेगा।
शुभ योग : इस दिन अमृत सिद्धि योग, सर्वार्थ सिद्धि योग और शश राजयोग का संयोग बन रहा है। रेवती और अश्विनी नक्षत्र भी संयोग बन रहा है। इस दिन चंद्रमा गुरु की राशि मीन में होंगे। शनि देव स्वयं की राशि कुंभ में विराजमान होकर शश राजयोग का भी निर्माण होगा।
मंगलवार का शुभ समय

ब्रह्म मुहूर्त- प्रातः 03.56 से प्रातः 04.44 तक

प्रातः संध्या- 04.20 से प्रातः 05.32 तक

अभिजीत मुहूर्त- 11.06 पूर्वाह्न से 11.54 पूर्वाह्न तक

विजय मुहूर्त- 01.30 अपराह्न से 02.17 अपराह्न तक

4 राशियों के लिए नया वर्ष शुभ:-

1. मेष राशि : आपकी राशि का स्वामी मंगल है। मंगल इस वर्ष का राजा है। आपके लिए यह नया वर्ष शुभ फलदायी रहेगा क्योंकि गुरु की शुभ स्थिति के कारण आपको लाभ होगा। अटके कार्य पूर्ण होंगे।

2. वृषभ राशि : आपकी राशि के स्वामी शुक्र है। शुक्र शनि की मित्रता है। शनि इस वर्ष का मंत्री है। आपके लिए यह नया संवत्सर लाभदायक होगा क्योंकि आपकी राशि में गुरु का गोचर होने वाला है। कार्य में सफलता मिलेगी। धर्म और कर्म के काम में मन लगेगा।

3. कर्क राशि : आपकी राशि के स्वामी चंद्रमा है। प्रतिपदा तिथि की सोमवार से प्रारंभ हो रही है। आपकी राशि पर शनि की ढैय्या का प्रभाव है। नववर्ष में इस प्रभाव से आपको थोड़ी राहत मिलेगी और आपको आपकी मेहनत का फल मिलेगा।

4. कुंभ राशि : आपकी राशि के स्वामी शनि है और शनि इस वर्ष के मंत्री है। इस राशि के जातकों के लिए मंगल का राजा होना और शनि का मंत्री होना लाभकारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *